कोटा विश्वविद्यालय से सम्बद्धता प्राप्त शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालयों के सहायक आचार्यों की शिक्षण अभिक्षमता का प्रशिक्षणार्थियों की शैक्षिक उपलब्धि पर प्रभाव का अध्ययन

प्रस्तुत शोध अध्ययन में कोटा विश्वविद्यालय से सम्बद्धता प्राप्त शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालयों के सहायक आचार्यों की शिक्षण अभिक्षमता का प्रशिक्षणार्थियों की शैक्षिक उपलब्धि पर प्रभाव का अध्ययन किया गया है। अध्ययन हेतु शोधकर्ता ने सर्वेक्षण विधि का प्रयोग किया। प्रदत्तों के संकलन हेतु डा. आर.पी. ...

READ MORE +
शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालयों के सहायक आचार्यों की कार्य सन्तुष्टि का प्रशिक्षणार्थियों की शैक्षिक उपलब्धि पर प्रभाव का अध्ययन

प्रस्तुत शोध अध्ययन का मुख्य उद्देश्य, सहायक आचार्यों की कार्य सन्तुष्टि का प्रशिक्षणार्थियों की शैक्षिक उपलब्धि पर पड़ने वाले प्रभाव का अध्ययन करना था। शोधकर्ता ने इसके लिए हाड़ौती के 30 शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालयों के सहायक आचार्यों जिनमें 150 शहरी क्षेत्र एवं 150 ग्रामीण क्षेत्र से न्यादर्श के ...

READ MORE +
शिक्षक शिक्षा के विकास में बी.एड. पाठ्यक्रम की प्रासंगिकता

समाज और राष्ट्र की प्रगति का प्रतिबिम्ब होती है। यह समाज, राष्ट्र व विश्व की शक्ति है जो एकता, सुख और समृद्धि के आधार के रूप में राष्ट्र को गौरवान्वित करती है। शिक्षक शिक्षा का मुख्य ध्येय अध्यापक का सर्वांगीण विकास करना होता है इसे प्राप्त करने के लिए अध्यापक के मानसिक स्तर, बौद्धिक क्षमता ...

READ MORE +
श्रीरामचरितमानस एवं श्रीमद्भगवद्गीता में निहित शैक्षिक मूल्यों की वर्तमान परिप्रेक्ष्य में प्रासंगिकता – एक अध्ययन

मुनि वेद व्यास की पावन वाणी, लीला प्रभु की जिसने जानी। सब पापों को धोने वाली, सरिता है ये भक्तिज्ञान की।। शुक्रदेव मुनि ने जिसको गाया, कलयुग में यह मार्ग बताया। हरि चरणों में शरण दिलाती, नौका है, बैकुण्ठ धाम की।। मोह ममता को दूर हटाती, सबको प्रभु का मार्ग दिखाती। भव बन्धन से मुक्त कराती, नौका ऐसी ...

READ MORE +
किशोर विद्यार्थियों में लिंगगत आधार पर वैज्ञानिक अभिवृत्ति का विश्लेषणात्मक अध्ययन

प्रस्तुत शोध का मुख्य लक्ष्य किशोर विद्यार्थियों में लिंगगत आधार पर वैज्ञानिक अभिवृत्ति का अध्ययन करना था। शोधार्थी ने अपने शोधकार्य के लिए कुल 600 किशोर विद्यार्थियों का चयन यादृच्छिक न्यादर्श प्रणाली द्वारा किया गया है। जिनमें 300 विद्यार्थी शहरी क्षेत्र से व 300 विद्यार्थी ग्रामीण क्षेत्र से ...

READ MORE +
किशोर विद्यार्थियों में वैज्ञानिक अभिवृत्ति का विकास

विज्ञान को बुद्धिजीवियों ने एवं वैज्ञानिकों ने अपने अपने मतानुसार परिभाषित किया है उन्होंने इसे ज्ञान समुदाय भी कहा है। इस ज्ञान समुदाय में सभी स्थापित तथ्य सम्मिलित है जिसमें प्रेक्षित दत्त एवं उनके आधार पर वर्णित सामान्यकरण शामिल है। सामान्य ज्ञान को विज्ञान कहते है या एक विशेष ज्ञान या जानकारी ...

READ MORE +
श्रीरामचरितमानस में निहित शैक्षिक मूल्यों की वर्तमान परिपेक्ष्य में प्रासंगिकता

नील कमल के समान श्याम और कोमल जिनके अंग है, श्री सीताजी जिनके वाम भाग में विराजमान है और जिनके हाथों में अमोध बाण और सुन्दर धनुष है, उन रघुवंश के स्वामी श्रीरामचन्द्र जी को मैं नमस्कार करती हूँ। मनुष्य को ईश्वर की सर्वश्रेष्ठ कृति माना गया है शिक्षा व्यक्ति को सुसंस्कृत बनाने का माध्यम है। यह हमारी ...

READ MORE +
edusanchar.com
Logo